पंडित प्रदीप जी मिश्रा
पंडित प्रदीप जी मिश्रा
पंडित प्रदीप जी मिश्रा

पंडित प्रदीप जी मिश्रा:-

अंतर्राष्ट्रीय कथा वाचक पंडित प्रदीप जी मिश्रा के बारे में इस लेख में आपको सारी जानकारी प्राप्त होगी I
पंडित प्रदीप जी मिश्रा का जन्म 16 जून 1977 को मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के ब्राह्मण (मिश्रा) परिवार में हुआ | पंडित जी के पिता जी का नाम रामेश्वर दयाल मिश्रा है, जिनकी मृत्यु हो चुकी है |

पंडित जी की माता जी का नाम सीता मिश्रा है जो एक गृहिणी है तथा उनके दो भाई है जिनका नाम दीपक मिश्रा और विनय मिश्रा है | पंडित प्रदीप जी मिश्रा की पत्नी का नाम एवं उनकी शादी कब हुई थी इस बारे में अभी तक कोई जानकारी हमें प्राप्त नहीं हुई है परन्तु उनके दो पुत्र है जिनका नाम माधव मिश्रा एवं राघव मिश्रा है अगर हमें भविष्य में उनकी पत्नी के बारे में जानकारी मिलती है तो हम आपको अपडेट कर देंगे |

पंडित प्रदीप जी मिश्रा एक भारतीय आध्यात्मिक वक्ता (कथा वाचक) है, इन्हे सीहोर वाले बाबा भी कहा जाता है | पंडित जी ने अपनी स्कूली शिक्षा अपने जन्म स्थान सीहोर के एक निजी हाई स्कूल से पूरी की है इसके बाद उन्होंनेअपनी स्नातक की डिग्री भी पूरी की है बचपन से ही उन्हें हिन्दू धर्म ग्रंथो के अध्ययन में बड़ी रूचि थी इसलिए उन्होंने बचपन से उनका अध्ययन शुरू कर दिया था |

आजकल पंडित जी देश विदेश में बहुत प्रसिद्ध हैं सोशल मीडिया प्लेटफार्म से उन्हें बहुत प्रसिद्धि मिली है और लाखों- करोड़ो की संख्या में लोग उनके अनुयायी है, जो की उनके अनमोल वचनो एवं उनके द्वारा बताए गए विभिन्न प्रकार के उपायों को बहुत ज्यादा मानते और अपने दैनिक जीवन में उनका पालन करते हैं , पंडित जी ने लोगो को एक बार फिर से मंदिर जाना सिखाया है और सनातन की राह की और अग्रसर कर दिया है |

पंडित प्रदीप जी मिश्रा
पंडित प्रदीप जी मिश्रा

 

पंडित प्रदीप जी मिश्राव्यक्तिगत विवरण :-

  • नाम- पंडित प्रदीप मिश्रा
  • अन्य नाम- रघुराम
  • प्रचलित नाम- सीहोर वाले बाबा
  • जन्म- 16 जून 1977 (46 वर्ष)
  • जाति- ब्राह्मण
  • धर्म- हिन्दु (सनातन )
  • जन्म स्थान- सीहोर, मध्य प्रदेश
  • राशि- मिथुन
  • विवाह तिथि- 5 दिसंबर 2004
  • वैवाहिक स्थिति- वैवाहिक
  • कद- 5 फ़ीट 8 इंच (लगभग )

 

पंडित प्रदीप जी मिश्रा-करियर

अगर हम पंडित प्रदीप जी मिश्रा के करियर के शुरुआती दिनों पर गौर करे तो उन्होंने ने अपना करियर एक कथा वाचक के रूप में शुरू किया धीरे-धीरे उन्हें इतनी प्रसिद्धि मिली की अब उनके फेसबुक और यूट्यूब पर लाखो की संख्या में अनुयायी है इसके अलावा आस्था चैनल पर भी उनकी कथा का प्रशारण होता है|

कथा वाचक से पहले पंडित जी एक निजी स्कूल में शिक्षक के रूप में कार्य करते थे, उसी समय वह अपने समुदाय में एक पंडित के रूप में कार्यव्रत थे, 10 साल की नौकरी के बाद उन्होंने शिक्षक के पद से इस्तीफा दे दिया उसके बाद उन्होंने श्रीमद भागवत कथा प्रचारक के रूप में काम शुरू किया I

इसके साथ ही उन्होंने श्री गोवर्धन नाथ से गुरु दीक्षा प्राप्त करने के लिए इंदौर की यात्रा की उन्होंने बताया की गुरु ने हमें धोती पहनना सिखाया, गुरुजी ने सिखाया की आप जहा भी कथा करे वहां अपने जी को जोड़ ले आपका पंडाल कभी खाली नही रहेगा | गुरु से अपनी दीक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने अपने गांव एवं आसपास के इलाकों में श्रीमद्ध भागवत कथा का पाठ करना शुरू कर दिया |

 2020 में lockdown के दौरान यूट्यूब पर शिव महापुराण का वीडियो पोस्ट किया उनके इस वीडियो को बहुत कम समय में प्रसिद्धि मिल गई lockdown के बाद उन्होंने सीहोर में एक रुद्राक्ष महोत्सव एवं एक शिव पुराण कथा का आयोजन करवाया कार्यक्रम के दौरान लाखो की संख्या में भीड़ इखट्टी हो गई जिसके कारण यातायात व्यवस्था बिगड़ गई पंडित जी को स्वयं को भी अंदाजा नहीं था I

की मात्र यूट्यूब के वीडियो देख कर इतने भक्तो का प्यार मिलेगा भारी भीड़ के परिणाम स्वरूप कार्यक्रम को बीच में स्थगित करना पड़ा उन्होंने अपने भक्तो को रुद्राक्ष न देने एवं समय से पहले कार्यक्रम खत्म करने के लिए माफ़ी भी मांगी अभी पंडित जी की कथा का प्रसारण हिंदी टीवी चैनल आस्था पर समय-समय पर प्रसारित किया जाता है |

 

पंडित प्रदीप मिश्रा के कुछ उपाय जो आपके जीवन में परिवर्तन ला सकते हैं:-

यदि आप बेहद परेशान और निराश हैं तो आप अपने जीवन के लिए पंडित प्रदीप मिश्रा के तरीके का उपयोग कर सकते हैं।इससे आपकी समस्याओं का समाधान आसान हो जाएगा। प्रदीप मिश्रा जो तरीके बताते हैं वे लिखित में हैं, और मैं उनकी विशिष्टताओं को नीचे सूचीबद्ध करूंगाः-

1- यदि आपको अतिरिक्त ऋण चुकाना है, तो आपप्रदीप मिश्रा के तरीके का उपयोग कर सकते हैं। सबसे पहले आपको बरगद के पेड़ की पूजा करनी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपके सभी ऋण और समस्याएं समाप्त हो जाएंगी।इसके लिए आपको वातकेश्वर महादेव को ध्यान में रखना चाहिए। आपको नितंब के पेड़ की जड़ों को बनाए रखने के अलावा हर सोमवार को इस प्रकार की प्रक्रिया करनी चाहिए।

2 -इसके लिए आपको वातकेश्वर महादेव को ध्यान में रखना चाहिए। आपको नितंब के पेड़ की जड़ों को बनाए रखने के अलावा हर सोमवार को इस प्रकार की प्रक्रिया करनी चाहिए। ऐसा करने से आप कर्ज से जुड़ी समस्या का समाधान करेंगे।

3 -कब ऋण नहीं लेना है महाराज प्रदीप मिश्रा की तकनीक के अनुसार मंगलवार को ऋण लेना बुरा है, इसलिए ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। महाराज प्रदीप मिश्रा के अनुसार, यदि आप बुधवार को किसी और को पैसे उधार देते हैं, तो निस्संदेह आपकी आर्थिक स्थिति प्रभावित होगी और आप अपने द्वारा उधार दिए गए पैसे की वसूली नहीं कर पाएंगे।

2023 में कब है रक्षा बंधन 30 या 31अगस्त ? CLICK HERE

पंडित प्रदीप जी मिश्रा- पता

                विट्ठलेश सेवा समिति
विट्ठलेश भवन, संजय टॉकीज रोड सीहोर ( म. प्र.)
संपर्क सूत्र- 7000712991,9893825777,
9993329923
Whatsapp – 7000722058
E-mail – info@vsssehore.com
Website – www.vsssehore.com
Youtube – Pandit Pradeep Mishra
Facebook – Pandit Pradeep Mishra 

FAQ :-

Q1 :- प्रदीप मिश्रा जी की फीस कितनी है?

Ans:-  पंडित प्रदीप जी मिश्रा ने कभी यह नहीं बताया कि वह कथा करने के लिए फीस लेते हैं या नहीं और लेते भी हैं तो कितनी फीस लेते हैं. इसके बारे में जानकारी नहीं मिल पाई              है, हालांकि कईं मीडिया कंपनियों ने दावा किया है कि पंडित प्रदीप मिश्रा एक कथा के लिए 7 से 8 लाख रुपये चार्ज करते हैं I

Q 2 :- प्रदीप मिश्रा को कितने बच्चे हैं ?

Ans:- पंडित प्रदीप जी मिश्रा के दो पुत्र है जिनका नाम माधव मिश्रा एवं राघव मिश्रा है I

Q 3 :- प्रदीप मिश्रा की कथा कहाँ चल रही है 2023 ?

Ans :- पंडित प्रदीप जी मिश्रा की “श्री पार्थेश्वर शिवमहापुराण कथा” गुरुवार 10 अगस्त 2023 से मध्यप्रदेश के दतिया शहर के भांडेर रोड पे स्थित न्यू जेल के मैदान में आयोजित की जा रही है I

Q 4 :- प्रदीप मिश्रा जी की पत्नी का नाम क्या है ?

Ans :- पंडित प्रदीप जी मिश्रा की पत्नी के बारे में अभी तक कोई जानकारी हमें प्राप्त नहीं हुई है अगर हमें भविष्य में उनकी पत्नी के बारे में जानकारी मिलती है तो हम आपको                    अपडेट कर देंगे |

Q 5 :- सीहोर में रुद्राक्ष वितरण कब होगा ?

Ans :- कुबेरेश्वर धाम सीहोर के अभिमंत्रित रुद्राक्ष का वितरण 17 मई 2023 से शुरू कर दिया गया है जो अगली 2024 के महाशिवरात्रि तक चलेगा। इस बीच अपनी सुविधानुसार              किसी भी दिन कुबेरेश्वर धाम आकर आप रुद्राक्ष को ले सकते हैं।

Q 6 :- सीहोर वाले बाबा कौन है ?

Ans :- पंडित प्रदीप जी मिश्रा का जन्म मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में हुआ,  पंडित प्रदीप जी मिश्रा एक भारतीय आध्यात्मिक वक्ता (कथावाचक) है, इन्हे सीहोर वाले बाबा भी कहा               जाता है |

Q 7 :- सीहोर वाले महाराज की उम्र कितनी है ?

Ans :- पंडित प्रदीप जी मिश्रा का जन्म 16 जून 1977 को हुआ, उनकी उम्र (46 वर्ष ) हैं।

 

 

14 thought on “पंडित प्रदीप जी मिश्रा | जीवन परिचय | परिवार | करियर-2023 Pandit Pradeep Ji Mishra | Biography In Hindi | Family | Career”
  1. ऐसी ज्ञानवर्धक जानकारी साझा करने के लिए आभार।
    अगली अदभुत जानकारी के इंतेज़ार में….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *